शीघ्रपतन महिलाओ को भी होता है, क्या आप जानते है

पुरषो की तरह महिलाओ को भी शीघ्रपतन होता है। उनका प्रजनन अंग अंदर होने की वजह से पता नहीं चलता। जब महिलाये बहुत अधिक उत्तेजित हो जाती है हो वे अपने ऊपर काबू नहीं रख पाती और शीघ्रपतन हो जाता है। ये जरुरी नहीं की महिला को शीघ्रपतन सम्भोग के दौरान ही हो। जी है आपने बिलकुल सही पढ़ा महिलाओ को शीघ्रपतन सम्भोग की अधिक इक्छा के कारण भी हो सकता है। पुरुष अक्सर पूछते है की पत्नी या गर्लफ्रेंड संभोग में रूचि नहीं लेती इसका कारण यही है।

महिलाओ में शीघ्रपतन के कारण

  • पुरषो की तरह महिलाओ में भी शीघ्रपतन का मुख्य कारण मानसिक है। स्ट्रेस होना, अधिक चिंता करना और रिस्तो में कड़वाहट होना सव्भाविक है।
  • एडल्ट साहित्य पढ़ना व देखने से महिला के मन उत्तेजित हो जाता है जिस से शीघ्रपतन हो जाता है।
  • ज्यादा गर्म परवर्ती के भोजन जैसे अधिक तेल भुना खाना, फ़ास्ट फ़ूड ज्यादा खाना, नॉनवेज का अधिक सेवन इस से शरीर में गर्मी बढ़ती है और इस से महिला और पुरषो में शीघ्रपतन की समस्या हो सकती है।
  • जैसा हमने पहले बताया अत्यधिक सम्भोग की उत्तेजना भी शीघ्रपतन का कारण है।
  • कमजोर शरीर के कारण दिमाग भी कमजोर हो जाता है जिस से दिमाग किसी भी प्रकार की भावनाओ पैर काबू नहीं रेख पाता। जल्दी गुस्सा आना, चिचिड़ा पण होना और सम्भोग की इन्द्रिय भी काबू में नहीं रहती जिस से शीघ्रपतन की समस्या जन्म लेती है।

महिलाओ में शीघ्रपतन का इलाज

महिलाओ में शीघ्रपतन का इलाज 3 Steps में किया जा सकता है

Step 1

महिलाओ में शीघ्रपतन के घरेलू उपाय

  1. मन को साफ और शांत रखे – अश्लील साहित्य से दूर रहे।
  2. घर का बना साधा भोजन करे – तला-भुना और बाहर के खाने का परहेज करे।
  3. पोस्टिक आहार ले – एक महिला का शरीर सम्भोग के दौरान ४ गुना अधिक ऊर्जा उपयोग करता है इसलिए महिला को पोस्टिक आहार की अधिक अवस्य्क्ता होती है आहार में बदलाव करते रहे। रोज अलग-अलग तरह की सब्जी बनाये। रोटी, सब्जी और सलाद बराबर मात्रा में ले। रोज एक गिलास दूध जरूर पिए।
  4. सम्भोग का आनंद ले – सम्भोग में बिलकुल भी जल्दबाजी ना करे। सम्भोग की शुरुआत प्यार भरी बातो से करे। धीरे – धीरे फोरप्ले पर आये और उसका आनंद ले। मिलाप करते समय पूरा ध्यान सम्भोग पर ना लगाए। आपसे में बात करते रहे। एक अवस्था में ज्यादा देर तक सम्भोग न करे अवस्था बदलते रहे।

Step 2

शीघ्रपतन में महिलाओ के लिए योग

पुरषो से ज्यादा जरूरत योग आसनो की महिलाओ को है। क्योकि उन्हें मासिक धर्म होता है, बचो को जनम देती है और सबसे ज्यादा मानसिक स्ट्रेस भी उन्हें ही लेना पड़ता है। तो आप सुबह की शुरुआत हमेसा योग से करे। महिलाओ की लिए उपयोगी योग।

सूर्य नमस्कार

आप कोई योग करे न करे पर सूर्य नमस्कार जरूर करे यह पुरे शरीर के लिए सबसे उचित योग है। यह आसन सिर से लेके पर तक हर अंग के लिए लाभकारी है। निचे दिए चित्र में सूर्य नमस्कार का सही तरीका दिया गया है।

सूर्य नमस्कार

केगेल आसान

महिलाओ के पर्जनन अंगो के लिए सबसे उपयोगी आसन केगेल सबसे उपयोगी है। निचे दिए गए चित्र के अनुसार ही इस आसन को करे और दूसरे स्टेप पर 15 से 20 सेकंड रुके।

 केगेल आसान

सावधानी – प्रेगनेंट महिलाये कोई आसन न करे।

Step 3

महिलाओ के लिए शीघ्रपतन का आयुर्वेदिक इलाज।

आयुर्वेदिक इलाज से पहले उपरोक्त दिए उपाय को अपनाये। आप उनसे ही ठीक हो जायेंगे। अगर आप उपरोक्त दिए उपाय आराम जल्दी नहीं होता तो आपको आयुर्वेदिक दवाओं के इलाज जरुरत पड़ेगी। आयुर्वेद में अनेको ऐसी जड़ी बुटिया है जिनके प्रयोग से महिला और पुरुष दोनों की योन समस्याओ को जड़ से ठीक किया जा सकता है। जैसे शिलाजीत, मूसली, स्वर्ण भसम, लोह भसम इत्यादि। ये जड़ी बुटिया काफी ताकतवर होती है और महिलाओ का शरीर बहुत नाजुक तो इन्ही आप बिना किसी आयुर्वेदिक डॉक्टर की सलहा के ना ले।

नोट – अंग्रेजी इलाज में शरीर में जिस प्रोटीन या मिनरल की कमी को टेबलेट या कैप्सूल के रूप में देकर उनकी आपर्ति करने की कोसिस की जाती है जिस कारण आपको आजीवन अंग्रेजी दवा लेने पड़ती है। जबकि आयुर्वेद आपके उस अंग को ठीक करता है जो उस प्रोटीन या मिनरल को बनाता है। कृपया आप अंग्रेजी दवा का शॉर्टकट ना लेकर दिनचर्या में बदलाव, योग आसन और आयुर्वेदिक इलाज की और जाये। आप लम्बा और स्वस्थ जीवन जियेंगे।

By Bengali Dawakhana (Dr Deepak Gupta)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *